High school love story – तेरी यादें भी भुला दी

 

High school love story – जब वह मुझे अचानक मिली

 

“हेल्लो नवीन कैसे हो?” मैं शोपिंग मॉल में कपडे ले रहा था तभी किसी ने मेरा नाम लेकर पुकारा. उसके तरफ मैंने देखा कोई लड़की थी. मगर चेहरा पहचान में नहीं आ रहा था. ऐसा लगा कही देखा हूँ.

“पहचाने नहीं तुम. 11th class याद करो” वो मेरे पास आई और मेरे यादों पर जमी धुल को हटाने में मदद कर रही थी.

“अरे हाँ. रीना! कैसी हो? कैसे पहचान पाता तुमको. तुम और खुबसूरत हो गई हो.” मैंने मुस्कराते हुए बोला. वह भी मेरे साथ हंस पड़ी.  very sad love story in Hindi – प्यार में दगा दिया मैंने.

“इतने सालो बाद हम मिलेंगे. मैंने कभी सोचा नहीं था. शादी कर लिए या ऐसी ही हो.”

“हाँ शादी तो कब की हो गई. मेरे दो बच्चे भी है. “मैं उसके खुबसूरत चेहरे को देख रहा था. इतने दिनों बाद, कितने सालो बाद देखने को मिला था यह चेहरा. इस चेहरे को कहाँ-कहाँ नहीं ढूंढा पढाई खत्म होने के बाद. मगर नहीं मिली और जब मिली तो मैं किसी का हो चूका था.

“तुम यहाँ कैसे आई. तुमने शादी किया या नहीं.”

“नहीं अभी नहीं. शादी ठिक हो गया है. इसी साल होगा. घर की जिम्मेदारियो से अभी तक नहीं कर पाई.” हमलोग मॉल में ही चलते-चलते बाते कर रहे थे.

High school love story

“तुम तो बिलकुल नहीं बदले.”

“तुम तो बिलकुल ही बदल चुकी ही. पहले तो सुंदर थी अब बहुत सुंदर हो चुकी ही.”

“ऐसा बात है क्या?”   Super sad true love story – कहानी एक धोखेबाज़ लड़की की.

“हाँ कुछ ऐसा ही है.”

“अभी मैं जाती तुमको फिर call करुँगी. अब मुझे यही पर रहना है.” वह जाती हुई बोली

 

High school love story  – जब उसे पहली बार देखा था

 

मैंने उसके जाते हुए देखा सच में वह बहुत खुबसूरत हो गई है. उस समय भी तो खुबसुरत थी ही. जब साथ पढ़ते थे. जो पल मैं यादों में भी खो चूका था. वह सारी याद आने लगी. सारी यादे ताजा होने लगी.

मैं 11th में था उस समय. हमारी मैथ की class चल रही थी. तभी एक लड़की आई थी. class के सभी लड़की उसी तरफ देखने लगे. मैं भी देखा. एक खुबसूरत सी लड़की आई थी पढने के लिए. हमारे class के सभी लड़के बस रही सोच रहे थे यह इसी class में आ जाये. मैं भी यही सोच रहा था. और भगवान ने हमारी सुन ली थी. अगले दिन से वह हमारी ही class में आने लगी.  Short sad love story – तेरे यादों के सहारे जी लूँगा

 

High school love story  – उसके लिए बढ़िया से पढने लगा

 

मैं अब टाइम से पहले ही कोचिंग पहुच जाता और उसके इंतजार में रहता. सभी लड़के भी उसी के इंतजार में रहते. class के अंदर जाने के लिए रोज धक्का-मुक्की होता. क्यों की आगे से पहली बेंच पर वह बैठती थी. फिर दूसरी बेंच पर बैठने के लिए होड़ लगी रहती. सब यही चाहते की मैं दूसरी बेंच पर बैठू. मैं भी दूसरी बेच पर बैठने के लिए कोचिंग पहले पहुच जाता. मगर अंदर जाते-जाते सारा सिट बुक हो जाता और मैं उदास होकर पीछे चला जाता.

High school love story

 

मैं अब पढने में मन लगाने लगा. टीचर कुछ पूछते तो मैं सबसे पहले खड़ा हो जाता और उसे बताने का प्रयास करता. सभी लड़के मेरे तरफ देखते. और मैं यही देखने में रहता की रीना देख रही है या नहीं. मुझे लगता की वह मुझे भाव नहीं देगी क्योंकी मेरे कपडे अच्छे नहीं थे पुराने थे और सभी के जैसा में बढ़िया नहीं दिख रहा था.

 

High school love story  –  मैं कभी उस से बोल नही पाया

 

अब class में कुछ भी पूछना होता तो टीचर मुझे खड़ा करते थे. मैं भी पूरी तैयारी के साथ आता और सभी प्रश्नों का उतर देता. मुझे रीना से दोस्ती का बस एक यही एक रास्ता था. और किसी तरह से अपना इम्प्रैशन नहीं जमा सकता था. अब सभी लड़की और लड़कियां मुझे जान गए थे. शायद रीना भी. मगर हमारी बात नहीं हो पाई. मुझमे इतना हिम्मत नहीं था की उस से कुछ बोल पाऊं. और उसने कभी बोला नहीं. my first love story – मेरा पहला-पहला प्यार

कभी-कभी वह मुझे रास्ते में मिल जाती. मैं अपना सर निचे किये निकल जाता मेरी पुरानी साइकल  और पैर में हवाई चप्पल. क्या सोचेगी वह. इसलिए जल्दी ही वहाँ से निकल जाता.

 

High school love story  – हमारा अंतिम दिन

 

फिर आया कोचिंग का आखिरी दिन. सब लड़के और लड़कियां एक दुसरे को गुलाल लगा रहे थे. मैं भी एक-दो लड़के को लगाया. और रीना को देखा. वह भी मुझे देखा रही थी. मैंने हिम्मत किया और उसके पास पहुच गया. उसके पास जाते ही मैं फिर से रुक गया. वह मेरे सामने खड़ी थी. उसकी गाल गुलाबी हो चके थे. और उसकी बड़ी-बड़ी आखे मुझे घुर रही थी. जबतक मैं कुछ कर पता वह वहाँ से चली गई.

High school love story

 

उसके बाद वह कभी नहीं मिली. मैं कितनी ही बार उस कोचिंग में गया. उस तरफ बैठा रहा मगर कभी दिखाई नहीं दी.

आज इतने दिनों बाद ऐसी मिलेगी मुझे पता नहीं था. और अब मिल कर होना भी क्या मैं किसी और का हो चूका था.

 

 

 

आपको यह story कैसा लगा जरुर कमेंट करे और आपके पास भी अपनी story है तो भेजिए हमलोग उसे publish करेंगे.

 

 

related story;- 

 

motivation :-

share on–o–

, , ,

Post navigation

3 thoughts on “High school love story – तेरी यादें भी भुला दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *