Positive poem in Hindi – क्यों बैठे हो हार मानकर,

Positive poem – क्यों बैठे हो हार मानकर,

 

 

क्यों बैठे हो हार मानकर,

क्यों सोये हो भय खाकर,

उठो, जगो और चल पड़ो,

अपने विजय पथ पर

 

रोने से क्या होगा,

कोई नहीं आएगा चुप कराने,

सोने से क्या होगा,

कोई नहीं आएगा तुमको जगाने,

Positive poem

रोते को और रुलाती है यह दुनियाँ,

सोये हुए को और सुलाती है यह दुनियाँ,

उठो, जगो और चल पड़ो, Social Issue poem – भाई-भाई से अलग हो गया.

गिरे हुए को और गिराती है यह दुनियाँ.

 

Positive poem   – एक अलग मुकाम बनाना होगा.

 

उठ कर खुद ही चलना होगा,

भले ही लाख गिरो रास्ते में,

गिर गए तो क्या हुआ, फिर से उठ कर,

एक अलग मुकाम बनाना होगा.

 

क्यों बैठे हो हार मानकर,

क्यों सोये हो भय खाकर, Moral story in hindi -एक कहानी जो आपकी जीवन बदल देगी.

उठो जगो और चल पड़ो,

अपने विजय पथ पर

 

राहों में रुकने वाले हार जाते है,

राहो में मुड़ने वाले हार जाते है,

होती है जीत उस की अंत में,

राहो में जो चलते ही जाते है.

 

Positive poem  – चलने वाले की कभी हार नहीं होती,

 

कोई भी राह आसन नहीं होती,

मेहनत से लानी पड़ती है,

अपने कदमो में जान, क्योंकी

चलने वाले की कभी हार नहीं होती,

Positive poem

रोकेंगे हजारो तुमको राहो में,

आयेंगे हजारो मुश्किलें राहो में,

न रुकना है, न मुड़ना है, न झुकना है,

रखकर ध्यान मंजिल का बस चलते रहना है.

 

क्यों बैठे हो हार मानकर,  Super sad true love story – कहानी एक धोखेबाज़ लड़की की.

क्यों सोये हो भय खाकर,

उठो जगो और चल पड़ो,

अपने विजय पथ पर

 

Positive poem  – बस मंजिल पर ही ध्यान रखना,

 

छोड़ देंगे अपने भी साथ तेरा,

उन मुश्किल भरी राहो में,

होगा चलना अकेले तुमको,

उन मुश्किल भरी राहो में,

Positive poem

पहुचेंगे मंजिल पर,

ये मन में विश्वास रखना,

कितना भी डगमगाए पैर तुम्हारा,

बस मंजिल पर ही ध्यान रखना,

 

पहुंचोगे एक दिन जब तुम मंजिल पर,

तुमको खुद पर अभिमान होगा,

नहीं रहेगा, कुछ भी कही,

बस ‘तुम्हारा’ दुनियाँ में हाहाकार होगा.

 

 

आपको यह poem कैसा लगा जरुर कमेंट करे. आपके पास भी पोएम है तो हमे भेजिए हमलोग उसे publish करेंगे.

 

related poems:-

Inspirational poem for life – सूर्य का प्रकाश हो

 

 

love stories :0-

 

 

 

share on –o–

 

, ,

Post navigation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *