sad love story in Hindi – प्यार में दगा दिया मैंने.

Review of: story
Product by:
sn tiwari

Reviewed by:
Rating:
5
On January 23, 2017
Last modified:March 18, 2017

Summary:

Very sad story in Hindi is a nice story.. you feel connected this story

sad love story

मैं उसके साथ वफ़ा नहीं करी पाई. क्यों? पता नहीं, शायद मैं गलत रही जो उसे छोड़कर दुसरे से जा मिली. जो लड़का मेरे लिए रोया, मेरे गलती पर गलती करने के बाद भी माफ़ किया मैंने उसे छोड़ दिया. किसी ऐसे के लिए जो मेरा था ही नहीं, न ही होगा. मैं ऐसा क्यों कर गई? क्या मुझे नौकरी मिलने का नशा चढ़ गया था या मुझे ख्याल ही नहीं था क्या कर रही हूँ. जवाब आज भी ढूंडती हूँ तो “आखो में बस पानी छलक जाता है”. और दिल बस इतना ही कह पाता है – “प्यार में दगा दिया मैंने.”

कभी कभी आपको कोई इतना अच्छा लगने लगता है की बस उसे पाने की तम्मना हो जाती है. मेरे साथ भी वैसे ही हुआ. जब मैंने उससे देखा था बस यही सोची थी यह लड़का मुझे मिल जाए. संयोग कहे या भाग्य ‘भगवन’ ने मेरी सुन ली थी. हमलोग धीरे-धीरे दोस्तो हो गए. फिर एक दिन मैंने उसे प्रपोज भी कर दिया. और उसने भी तुरंत ही “हाँ” कर दिया.

sad love story   – मैं क्यों हो गई ऐसा

मैं अब सपने में जी रही थी ऐसा सपना जो सच्चा था. उसे पाने, उसे अपना बनाने का. वह अब मेरा था. सिर्फ मेरा. हमलोग खूब मिलने लगे. सभी से बचकर-बचाकर. नहीं मिलने पर बेचैनी सी चढ़ जाती और न देखने पर लगता जैसे कुछ खोया है. और “वो”. वो तो मुझसे जयादा मुझसे प्यार करता था. इतना खुबशुरत लड़का मुझे इतना प्यार करता था. मेरी न तो रंग थी, और न ही जयादा सुन्दरता.

मै कभी-कभी दुसरे से भी बात कर लेती. एक friend की तरफ. मगर उस से कभी नहीं बताई. हमेशा उस से छुपा कर रखी. कभी मिलने भी जाती तो अपना whats up और Facebook का data डिलीट कर देती.

 

sad love story

क्या हुआ था मुझे? मै क्यों ऐसा कर रही थी. मुझे खुद पता नहीं था. मेरी बुद्धि कुंद हो गई थी. ऐसा नहीं था की उस से प्यार नहीं था, प्यार तो उस से ही था. फिर भी दुसरे के तरफ attract होती गई. और ऐसे होती गई की उसके खुशियों का ख्याल ही नहीं रहा. उसका trust मुझ पर अपने आप से जयादा था. और मैं उसका trust तोड़ती रही, हर बार.

 

 sad love story  – जब वह रोया था मेरे लिए

 

अभी भी वह दिन याद है जब रात भर रोया था. जब उसको किसी ने मेरे बारे में बताया- बातें करने और मिलने की. एक बार सोची की बता दू की मै धोखा दे रही हूँ. किसी और से भी बात कारती हूँ. मगर मैं एक बार फिर कमजोर हो गई. दुसरे दिन मिले तो मैंने साफ मना कर दिया. “मैं किसी से बात करती ही नहीं.”

उसकी लाल-लाल आखें देखकर भी पसीज नहीं पाई. जो एक ही बात बोल रही थी. “ये तुम्हारे चलते हुआ है. मैं सोई  नहीं रात भर. बस बरसती रही. सावन की तरह.”

गलत बाते कभी छिप नहीं पाती, मेरा बात उनको फिर मालूम हो गया.

“क्यों कर रही हो ऐसा? क्या चाहिए तुम्हे जो मैं नहीं दे रहा हूँ?” उसने अगले दिन मिलते ही पूछा.

“अब क्या कर दी?” मैं भी अनजान बनते हुई पूछी. गलती करने के बाद भी मैं उसे छुपाती रही.

“क्या तुमने कुछ नहीं किया? मै नहीं जनता हूँ जो कर रही हो” फिर उसने सारा चीज सामने रख दिया. और बोला – “अगर तुम यही करना चाहती हो तो करो, मन भर करो लो. जब मन भर जाये इस सब चीजो से. फिर मेरे पास आना, मैं तुमको वैसे ही मिलूँगा जैसे था.” उसकी आँखे भर आई थी. लेकिन मैं निलर्ज वैसे ही खड़ी रही , जैसे कुछ किया ही नहीं हो.

“सॉरी, अब नहीं होगा ऐसा. ये लास्ट टाइम. लास्ट टाइम माफ़ कर दो. इस बार हम दोनों अपना सिम change कर लेंगे.”

“number बदलने से कुछ नहीं होगा नियत बदलो. number कितना भी बदल लो और नियत बदलो ही नहीं तो क्या फायदा और ‘नियत ही अच्छा हो जाये तो number बदलने की क्या जरुरत.” उसने कहा.

 

 sad love story  – मेरी नियत नहीं बदली

 

sad love story

 

मै उसके हाँ में हाँ मिलाती गई. मुझे ये बाते अच्छी नहीं लगती. सारी बकवास है. मैंने अपना number तो बदल लिया मगर मेरी नयत नहीं बदल पाई. मैं वही रही जो थी. उसके नजर में बदल गई थी. धीरे-धीरे वैसे ही हो गई जैसे थी.

समय बीतता गया. इसी बिच मुझे job मिल गया. कितने खुश हुई थी. और ‘वो’ भी कितना खुश था. हमने पहले ही प्लान बनाया था – job मिलेगा तो क्या क्या करंगे. कहाँ-कहाँ जायेंगे और क्या क्या खरीदना है. सारी चीज हमने पहले से सोच रखा था. मेरी job भी इसी शर्त पर हुआ था की पेमेंट का 50% दोनों लेंगे.

मैं job ज्वाइन कर लिया था. मैं उसके छोड़ अपने लाइफ में आगे बढ़ते गई. मैं यहाँ फिर से बात करना शुरू कर दिया. अपने office के ही लड़के से. एक बार फिर से उसे पता चल गया. मैंने उस से सॉरी बोल कर लास्ट टाइम बोली. वह फिर से मान गया.

समझ से बहार था मेरे की मुझे वो हर बार माफ़ क्यों कर दे रहा है. मैं उसे ही गलत समझे लगी. अब तक मेरा व्यवहार बिलकुल बदल चूका था. दगा और फरेब मेरे अंदर कूट-कूट कर भर गया. मैंने उसको इग्नोर करना शुरू कर दिया. उस लड़के से भी बात कर रही थी जिसे मैं उसके नजर में छोड़ चुकी थी.

Moral story in hindi -एक कहानी जो आपकी जीवन बदल देगी.

sad love story  – वह मुझसे दूर चला गया गया

sad love story

 

 

 

ये मेरी last गलती थी. हमारे सपने, ‘नहीं, उसके सपने’ टूट चुके थे. हमने जो सोच था job होने पर क्या-क्या करेंगे, क्या क्या खरीदेंगे. सब कुछ ख़त्म हो गया क्यों की इस बार वह छोड़ के जा चूका था मुझे. दूर, – “बहुत दूर”, जहाँ से कभी लौट कर नहीं आने का वादा करके.

एक ऐसे लड़के का दिल तोड़कर मैं कहा खुश रहने वाली थी. मैं फिर भी नहीं बदली उसके लिए. शयद चाहती ही नहीं थी बदलना. अपने आदत से मजबूर अभी मैं वही कर रही जो वह नहीं चाहता था.

आज इतने दिनों बाद भी मेरा मन उदास हो जाता है उसके लिए. सब कुछ हो कर भी खालीपन का एहसास है उसके बिना. जो मेरी खुशियों के लिए जीया. जिसके साथ हर सुख-दुःख काटी. अब अच्छे समय में उसे छोड़ दिया. और दुसरे का हाथ थाम लिया. अब तो बस उसकी यांदे है और दिल यही कहता है. – “प्यार में दगा दिया मैंने.

 

आपको यह कहानी कैसी लगी. अच्छी लगी तो जरुर कमेन्ट करे. और आपके पास भी है ऐसे कहानी हो हमे भेजिए हम उसे अपनी website पर publish करेंगे. आप हमे मेल कर सकते है या कमेंट बॉक्स में भी Facebook पेज पर भी message कर सकते है.

 

related story..you want to must be read:-

the best love story-मेरा प्यार, मेरी जिन्दगी है

short love story-एहसास एक सच्चे प्यार की

Moral story in hindi -एक कहानी जो आपकी जीवन बदल देगी.

Inspirational life quotes-सफलता के लिए जरुरी बातें (भाग-2)

 

Very sad story in Hindi is a nice story.. you feel connected this story
, , ,

Post navigation

19 thoughts on “sad love story in Hindi – प्यार में दगा दिया मैंने.

  1. I see your site needs some fresh & unique articles.
    Writing manually is time consuming, but there is solution for this hard task.
    Just search for: Miftolo’s tools rewriter

    1. that, depending on certain programs, leaiolgtisn, and state legislation there may be quite a few loans which are not easily sorted out through the switch of loans. Therefore, the obligation still remains on the lender that has acquired his or her property foreclosed on. Many thanks for sharing your opinions on this blog.

  2. I?m no longer positive where you’re getting your information, however great topic. I must spend a while learning much more or working out more. Thanks for great info I used to be on the lookout for this information for my mission.

  3. मुझे तो लगता है कि कुछ लड़कियों को छोड़कर हर लड़की ऐसी ही होती है। या तो वो पैसा के लालच में ऐसा करती है या फिर उसके नियत में ही खोट रहता है। इस लड़की ने जैसा इस लड़के के साथ किया उसे धोखा दिया ठीक ऐसे ही एक लड़की ने मेरे साथ किया। यही वजह है कि मैं किसी लड़की पर भरोसा नही करता और शायर इस जन्म में नही कर पाऊंगा।

  4. Ladki hitu hi bebfa hai yaro jab bhi koi problem ati hai majburi ka bahana mar ke nikal leti hai magar ye sayad bhul jati hai ki koi tumhe bahut pyar karta hai jo tumhare liye har problem se lad sakta hai magar nhi suchti bo to dusra bf me jada khus rahti hai

  5. ये स्टोरी पूरी की पूरी मेरी सोना पर है मेरी सोना भी ऐसी ही है इसी लिए मैं अंधेरो में जी रहा हु आज फिर मेरे आखो से आशु बहने लगे मन कर रहा है चिल्ला-चिल्ला के रोये सोना तुम ऐसा बार बार क्यों करती रही मैं आज तक नही समझ सका मैं बस घुट घुट कर जी रहा हु तुम्हारी वजह से सायद मुझे तुमसे इतना प्यार ही नही करना चाहिए था
    I love you sona मैं तुमसे आज भी उतना ही प्यार करता हु आज तक मेरे लाइफ में दूसरी लड़की नही आई लेकिन अब मेरे पास दुबारा मत आना क्यों कि नफरत भी उतना ही करता हु मैं तुमसे मन करता है जान से मार दु मगर ऐसा कर भी नही सकता!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *